योगी की एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस को शाबाशी दीजिए, 8 साल के मासूम बच्चे को मार गिराया है !
सोशल-वाणी

योगी की एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस को शाबाशी दीजिए, 8 साल के मासूम बच्चे को मार गिराया है !

यूपी पुलिस को शाबाशी दीजिये! बहुत बड़े “हिस्ट्री शीटर, इनामी बदमाश” को मार गिराया है!

इस “क्रिमिनल” की उम्र मात्र आठ साल है. यह उस समय खेल रहा था, जब एनकाउंटर करने गयी पुलिस की गोली इसे लगी. इसकी माँ कलेजा फाड़ कर रो रही थी, कैमरे के आगे बयान दे रही थी कि पुलिस वाले आये, और गोली मारकर चले गए.

मामले की लीपापोती करने, और इस परिवार को चुप कराने के वास्ते फटाफट योगी जी ने पांच लाख का चेक भेजा, और पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया. अब इस माँ के हाथ में अपने कलेजे के टुकड़े का स्कूल से मिला “आईकार्ड” भर रह गया है.

मथुरा के मोहनपुर अड़ूकी में अमरनाथ का घर गांव से बाहर है, और घर के पास ही बगीचा बना रखा है। बुधवार शाम करीब छह बजे हाईवे थाना क्षेत्र के एक दरोगा और चार सिपाही अमरनाथ के मकान पर पहुंचे थे। अमरनाथ के पिता शिवशंकर ने कहा कि यहां तो कोई नहीं है। इसी दौरान पुलिस वालों ने बदमाश होने की बात कहकर फायरिंग शुरू कर दी। गोली घर के पीछे खेत में खेल रहे अमरनाथ के आठ वर्षीय बेटे माधव के सिर में लग गई।

सवाल यह है कि हत्या के मामले में पुलिस वाले सिर्फ सस्पेंड क्यों हुए हैं? इन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं किया जाना चाहिए था? उत्तर प्रदेश पुलिस इतनी पगला क्यों गयी है? उसे “अपराधियों” को मार गिराने का अधिकार किस कोर्ट ने दे रखा है ?