नए साल पर रवीश कुमार का युवाओं के नाम संदेश, बोले- नेता-नेता मत कीजिए, इनकी नीति और नीयत देखिए
सोशल-वाणी

नए साल पर रवीश कुमार का युवाओं के नाम संदेश, बोले- नेता-नेता मत कीजिए, इनकी नीति और नीयत देखिए

हमारे ख़्वाब का सूरज निकलेगा अभी ज़रा तन्हा है,
उनके गुमान के सर पर चमकेगा अभी ज़रा तन्हा है…

नए साल की शुभकामनाएँ उदार दिल से स्वीकार करता हूँ। व्हाट्स अप से लेकर फेसबुक पर आए आपके प्यार का जवाब न दे पाने के प्रति अफसोस प्रकट करता हूँ। हर बार अधिकतम मेसेज का जवाब देता था। इस बार नहीं हो पा रहा है। आपका प्यार ही मेरा नया साल है।

अठारह साल की उम्र में प्रवेश करने वाले प्रथम मतदाताओं से आग्रह है। सही सूचनाओं के आधार पर मतदाता बनने की तैयारी कीजिए। फालतू की नैतिक शिक्षा और प्रोपेगैंडा के आधार पर नहीं।

मतदाता बनना सिर्फ बटन दबाना नहीं होता है। उसके पहले की प्रक्रिया आईआईटी की परीक्षा की तैयारी की तरह साधना माँगती है। धारणा के आधार पर टिक मार्क न लगाएँ। जानकारी के आधार पर लगाएँ। बहुत से मतदाता धारणा के आधार पर तुक्का लगा आते हैं।

आप अपने सवाल का हल कीजिए। दूसरा किस पर टिक लगा रहा है, यह देख कर वोट न करें। इससे आपका भविष्य बिगड़ेगा। नेता-नेता मत कीजिए। नीति और नीयत देखिए।