सुप्रीम कोर्ट ने CM योगी को लगाई फटकार, कहा- तुम्हारी मशीनरी फेल हो गई है, काम नहीं करना चाहते हो
Running news

सुप्रीम कोर्ट ने CM योगी को लगाई फटकार, कहा- तुम्हारी मशीनरी फेल हो गई है, काम नहीं करना चाहते हो

आधार कार्ड दिन-प्रतिदिन विवादित बनता जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को बिना आधार वाले लोगों को सार्वजानिक योजना का लाभ ना पहुँचाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार को फटकार लगाई है।

सुप्रीम कोर्ट ने यह टिप्पणी शहरी बेघरों को आश्रय ना दिए जाने या रैन बसेरों में जगह ना मिलने की याचिका पर सुनवाई के दौरान की।

सुप्रीम कोर्ट ने सवाल उठाया कि क्या आधार न होने की वजह से ऐसे लोगों का वजूद ही सरकार की नज़र में नहीं है। आधार ना होने पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और उत्तर प्रदेश दोनों सरकारों से सवाल किया। जस्टिस एम बी लोकुर और जस्टिस दीपक गुप्ता की बेंच ने उत्तर प्रदेश अतिरिक्त महाधिवक्ता तुषाम मेहता से पूछा कि, “उन बेघर लोगों का क्या होता है, जिनके पास आधार नहीं है। क्या सरकार के लिए उनका वजूद नहीं है।”

बेंच ने कहा, “रिकॉर्ड्स और आंकड़ों के मुताबिक, ऐसा लगता है कि सरकार ने 90 फीसदी लोगों के आधार कार्ड जारी कर दिए हैं। लेकिन, उन लोगों का क्या जो बेघर और बदहाल हैं। जब उनके पास कोई पता ही नहीं होगा तो वे आधार कैसे बनवाएंगे।”

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हर राज्य में राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन लागू करने के लिए 2-2 सदस्यीय समिति बनाई जा सकती है। कोर्ट ने कहा कि दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन योजना 2014 से चल रही है, लेकिन यूपी सरकार ने लगभग कुछ नहीं किया है।

सुप्रीम कोर्ट ने उत्तरप्रदेश की योगी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा, ‘लगता है कि आपकी मशीनरी फेल हो गई है।’ आप लोग काम नहीं कर सकते हैं तो यही कह दीजिए। कह दीजिए कि आपसे नहीं हो पाएगा।’

बेंच ने कहा, ‘हम एग्जिक्यूटिव तो हैं नहीं। आपलोग अपना काम तो करते नहीं हैं और जब हम कुछ कहते हैं तो देश में सभी लोग हमारी आलोचना करने लगते हैं कि हम सरकार चलाने की कोशिश कर रहे हैं, देश चलाने की कोशिश कर रहे हैं।’