मुजफ्फरनगर दंगे के आरोपी BJP नेताओं से केस हटाने की तैयारी में योगी सरकार, DM और SSP ने किया विरोध
Running news

मुजफ्फरनगर दंगे के आरोपी BJP नेताओं से केस हटाने की तैयारी में योगी सरकार, DM और SSP ने किया विरोध

उत्तरप्रदेश के मुजफ्फरनगर ज़िलाधिकारी ने योगी सरकार के उस फैसले का विरोध किया है जिसमें सरकार ने मुज़फ्फरनगर दंगे से जुड़े आरोपियों के खिलाफ दर्ज मामले वापस लेने का फैसला किया है। इस दंगे में 60 लोगों की मौत हो गई थी और 4000 लोग बेघर हो गए थे।

उत्तरप्रदेश न्याय विभाग ने मुज्ज़फ्नगर ज़िलाधिकारी से 13 पॉइंट में ये सूचना मांगी थी कि क्या मुज़फ्फरनगर दंगों से जुड़े आरोपियों पर से आरोप हटा लेना जनहित में है?

इसके जवाब में ज़िलाधिकारी ने कहा कि ये मामले वापस लेना जनहित में नहीं है। क्योंकि इन आरोपियों के खिलाफ कोर्ट सज्ञान ले चूका है, पुलिस मामलों में चार्जशीट दर्ज कर चुकी है और विशेष जांच दल जांच कर रहा है।

इस मामले में योगी सरकार में मंत्री सुरेश राना, पूर्व केंद्रीय मंत्री संजीव बल्यान, सांसद भारतेंदु सिंह, विधायक उमेश मालिक और साध्वी प्राची पर आरोप लगे हुए हैं। ये सभी नेता भाजपा से ही हैं।

आरोपियों पर 2013 में हुई महापंचायत में शामिल होने और भड़काऊ भाषण देने के आरोप हैं।