PM मोदी बेरोजगारों को ‘पकौड़ा’ बेचने की सलाह दे रहे हैं वहीं भाजपा नेता किसानों को ‘हनुमान चालीसा’ पाठ करने की
Running news

PM मोदी बेरोजगारों को ‘पकौड़ा’ बेचने की सलाह दे रहे हैं वहीं भाजपा नेता किसानों को ‘हनुमान चालीसा’ पाठ करने की

देश के प्रधानमंत्री भले ही सभी किसानों को फसल बीमा योजना का लाभ देने की बात करते हों और समय समय पर अपने भाषणों में कहते हों कि देश का किसान परेशान है, बीजेपी सरकार उनके साथ है।

पर इन्हीं के मध्य प्रदेश के बीजेपी नेता का कहना है कि अगर किसानों को अपनी फसल बचानी है तो उन्हें हनुमान चालीसा पढ़नी चाहिए।

दरअसल बीजेपी के पूर्व विधायक रमेश सक्सेना ने किसानों से कहा है कि, फसलों को ओले जैसी प्राकृतिक आपदा से बचाने के लिए वे हनुमान चालीसा का पाठ करें।

आपको बता दें कि समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार प्रदेश के कृषि राज्य मंत्री बालकृष्ण पाटीदार ने इस बयान का समर्थन किया है। और किसानों को इस बात की नसीहत दी है कि वो हनुमान चाहिसा पढ़ें इससे उनके सारे कष्ट दूर हो जायेंगे और उनकी फसल में बढोतरी होगी ।

पूर्व विधायक ने एक वीडियो जारी करते हुए कहा है कि, ‘वैज्ञानिकों ने बताया है कि अगले चार-पांच दिन तक प्रकृति का प्रकोप रहेगा। ओले भी आएंगे और बारिश भी होगी। इस आपदा से बचने के लिए एकमात्र उपाय है हनुमान चालीसा। सभी किसान भाइयों से निवेदन है कि प्रतिदिन एक घंटा हनुमान चालीसा का पाठ करें।

उन्होंने कहा है कि अगर हर गाँव में एक घंटा हनुमान चाहिसा का पाठ किया गया तो इस आपदा से वो बच सकते है। इसके अलावा और कोई और रास्ता नहीं है। उन्होंने ये भी कहा है कि हनुमान दादा उनकी मदद जरुर करेंगे पर करीबन एक घंटा हनुमान चालीसा को पढ़ना पड़ेगा’

आखिर ये कैसा बयान है। कि एक प्राकृतिक आपदा से हनुमान चाहिसा का नाम लेकर बचा जा सकता है। जहां पर बीजेपी को इस बात से चिंतित होना चाहिए कि देश का किसान आत्म हत्या कर रहा है, सड़कों पर प्रदर्शन कर रहा है।

दरअसल कर भोपाल में किसान सम्मेलनन करवाया गया था। जिसमें बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अमित शाह, प्रदेश मुख्यमंत्री सभी शामिल थे। परन्तु इस किसान सम्मेलन की कुछ और ही तस्वीर देखने को मिली ये अनुमान लगाया जा रहा था कि तकरीबन 2 लाख किसान आयेंगे परन्तु दूर-दूर तक कुर्सियां इसमें खाली थी। ये किसान का आक्रोश नहीं तो और क्या है।