हमारे देश के नौजवान सांप्रदायिक औऱ नफरत फैलाने वालों से मुकाबला करेंगे, व्यवस्था परिवर्तन करेंगे : अखिलेश यादव
Running news

हमारे देश के नौजवान सांप्रदायिक औऱ नफरत फैलाने वालों से मुकाबला करेंगे, व्यवस्था परिवर्तन करेंगे : अखिलेश यादव

वर्तमान राजनीति में नौजवानों की भागीदारी सुनिश्चित करके ही आगे की राजनीति को मजबूत बनाया जा सकता है।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने साम्प्रदायिक ताकतों को रोकने और नया भारत बनाने की जिम्मेदारी देश के नौजवान के कंधे पर सौंपते हुए कहा कि, युवाओं को देश की तरक्की के लिए आगे आना होगा।

अखिलेश ने कहा, “साम्प्रदायिक ताकतों को रोकने और व्यवस्था में परिवर्तन लाने का काम नौजवान ही कर सकता है। बिना नौजवानों के बिना नया भारत नहीं बन सकता, सभी नौजवान साथ आएं और मिलकर नया भारत बनाएं।”

मौजूदा केंद्र सरकार में जिस तरह से गाय और लव जिहाद के नाम पर देश में नफ़रत फैलाई जा रही है वह काफी चिंताजनक है। अखलाक, पहलू खान, जुनैद और हाल ही में राजस्थान के राजसमंद में अफराजुल को मारने वाले उत्पाती युवा ही हैं।

यह कहा जा सकता है कि, ये युवा किसी फैक्ट्री से सिखा कर हिंसा करने के लिए भेजे गए हैं।

बता दें जब देश की हुकूमत नौजवानों को शिक्षा-रोजगार नहीं देगी और उनके गलतबयानों को सपोर्ट करेगी तो युवा ऐसे रास्ते पर ही जाएंगे।

ऐसे में अखिलेश यादव की नौजवानों से साथ आकर नया भारत बनाने और व्यवस्था में परिवर्तन लाने की बात और भी महत्त्वपूर्ण हो जाती है।