केरल बाढ़ः पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए क्रिकेटर डीविलियर्स, बाढ़ में फंसे लोगों के लिए की दुआ
Running news

केरल बाढ़ः पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए क्रिकेटर डीविलियर्स, बाढ़ में फंसे लोगों के लिए की दुआ

डीविलियर्स ने ट्वीट कर लिखा, “केरल में भयानक बाढ़ से प्रभावित लोगों के साथ मेरी चिंता और प्रार्थनाएं हैं।

केरल में बाढ़ और बारिश का कहर जारी है। ज़ोरदार बारिश से अब तक तकरीबन 370 लोगों की जान जा चुकी है। बारिश की वजह से राज्य में अबतक 8000 करोड़ से ज़्यादा का नुकसान हो चुका है। राहत कार्य के लिए सेना, नौसेना, वायुसेना, इंडियन कोस्टगार्ड और NDRF के जवान लगे हुए हैं।

केरल के इस मुश्किल वक्त में दुनियाभर से लोग मदद के लिए आगे आए हैं। बाढ़ पीड़ितों की मदद करने वालों की फेहरिस्त में अब दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज बल्लेबाज एबी डीविलियर्स का नाम भी जुड़ गया है। उन्होंने केरल डोनेशन चैलेंज में हिस्सा लेते हुए बाढ़ पीड़ितों के लिए दुआ की है।

डीविलियर्स ने ट्वीट कर लिखा, “केरल में भयानक बाढ़ से प्रभावित लोगों के साथ मेरी चिंता और प्रार्थनाएं हैं। इस बाढ़ में 100 से ज़्यादा लोग मर गए और 2 लाख लोग बेघर हो गए.. यह ख़ौफ़नाक है”।

इससे पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने भी केरल में बाढ़ में फंसे लोगों की मदद करने की अपील की। उन्होंने ट्विटर के ज़रिए कहा, “कृपया केरल में सभी लोग सुरक्षित रहें और जितना संभव हो सके घर के अंदर रहें।

आशा है कि स्थिति जल्द ही ठीक हो जाएगी। इसके साथ ही, इस नाज़ुक स्थिति में भारतीय सेना और एनडीआरएफ के अविश्वसनीय समर्थन के लिए उनका धन्यवाद। मज़बूत रहें और सुरक्षित रहें”।

वहीं, क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने भी ट्विटर के ज़रिए लोगों से बाढ़ पीड़ितों की मदद करने की अपील की है। उन्होंने कहा, “प्रार्थना हमेशा अच्छी होती है, लेकिन मुश्किल समय में हम सब इससे ज़्यादा कर सकते हैं। इस समय केरल बाढ़ के पीड़ितों और उनके परिवारों को हमारी मदद की ज़रूरत है। आईये उनको दिखा दें कि हम केरल के साथ खड़े हैं। मुख्यमंत्री बाढ़ राहत कोष में हमारा छोटा सा योगदान भी बड़ा काम करेगा”।

बता दें कि केरल पिछले 100 सालों की सबसे भयंकर बाढ़ में डूबा हुआ है। अब तक इस विभीषिका में मरने वालों की संख्या तकरीबन 370 हो चुकी है। 8 अगस्त से अब तक यानी महज 12 दिनों में कुल 180 लोग बाढ़ के चलते जान गंवा चुके हैं।

बाढ़ के चलते सूबे में करीब 2.23 लाख लोग और 50,000 परिवार बेघर हो गए हैं। इस तबाही से फसल और संपत्तियों समेत कुल 8 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ है। सूबे में अब भी खतरा टला नहीं है क्योंकि राज्य की लगभग सभी नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं।