सड़क से निकलकर शिक्षण संस्थान पहुंची मॉब लिंचिंग, टीचर पर वाइस चांसलर ने करवाया जानलेवा हमला!
BH News

सड़क से निकलकर शिक्षण संस्थान पहुंची मॉब लिंचिंग, टीचर पर वाइस चांसलर ने करवाया जानलेवा हमला!

इस हमले का आरोप यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर अरविंद अग्रवाल पर लग रहा है।

मॉब लिंचिंग अब सड़क और घर से निकलकर शिक्षण संस्थानों तक पहुँच गई है। ताजा मामला मोतिहारी जिले का है जहां महात्मा गांधी सेंट्रल यूनिवर्सिटी में सहायक प्रोफसर संजय सिंह को 25 से 30 लोगों ने मिलकर पीटा और पेट्रोल डालकर जलाने की कोशिश की।

इस हमले का आरोप यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर अरविंद अग्रवाल पर लग रहा है। फ़िलहाल संजय कुमार का इलाज़ चल रहा है।

दरअसल पीड़ित संजय कुमार ने पुलिस से बताया कि सोशल मीडिया के जरिए कुछ लोग पहले से ही उन्हें जान से मारने की धमकी दे रहे थे।

विश्वविद्यालय शिक्षक एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रमोद मीणा ने बताया- ‘कल संजय कुमार के घर पर धावा बोलकर कुछ लोगों ने उन्हें मारा और घसीटते हुए ले गए। उनके घर के बाहर से वो लोग गाली-गलौच करते हुए बोल रहे थे कि हम इसे जिंदा गाड़ देंगे।

20 से 25 लोगों के झुंड द्वारा उन्हें मरणासन्न की हालत तक खूब मारा-पीटा गया। उनके शरीर पर अंडरवियर बनियान भी सही हालत में नहीं बची। जब खूब पीट लिया तो उन पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगाने की कोशिश की गई। मौके पर मौजूद कुछ साथियों की मदद से बमुश्किल उन्हें गुंडा तत्वों की भीड़ से बचाया जा सका।’

आरोप है कि इस वाइस चांसलर अरविंद अग्रवाल ने यहां के कुछ गुंडे-आपराधिक तत्वों द्वारा शिक्षक पर हमला करवाया है।

ये गुंडा तत्व एक मौके की तलाश में थे कि कैसे हम लोगों को निशाना बनाएं और फेसबुक पर संजय कुमार द्वारा फेसबुक पर की गई टिप्पणी से उन्हें ये मौका मिल गया। यहां के डीन पवनेश कुमार ने भी संजय कुमार को धमकी दी थी, साथ ही अन्य शिक्षकों को भी धमकाया था।

पत्रकारों पर भी आरोप लग रहा है- हड़ताल पर बैठे शिक्षकों की मानें तो वाइस चांसलर और उनके लोग आपराधिक छवि के पत्रकारों को भी पैसा खिलाकर अपने पक्ष में किया है और लगातार शिक्षकों को धमकी दिलवाते रहते है। फिलहाल पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है और इस मामले की जांच लगी हुई है।

साभार-जनज्वार