अपने चुनावी लाभ के लिए ‘पाकिस्तान’ का डर दिखाने वाले PM मोदी एक लचर रणनीतिकार साबित हुए हैं : ओम थानवी
BH News

अपने चुनावी लाभ के लिए ‘पाकिस्तान’ का डर दिखाने वाले PM मोदी एक लचर रणनीतिकार साबित हुए हैं : ओम थानवी

प्रधानमंत्री मोदी के चुनावी भाषणों में पाकिस्तान का ज़िक्र आने पर सवाल उठने लगे हैं। पत्रकार ओम थानवी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए लिखा कि, पड़ोसी देश को अपनी चुनावी जद्दोजहद में निशाना बनाने के पीछे एक लचर कूटनीति की गूँज सुनाई पड़ती है।

दरअसल गुजरात के चुनावी माहौल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तानी तड़का लगाते हुए बेहद गंभीर आरोप लगाये, जिसमें उन्होंने कांग्रेस और पाकिस्तान के पूर्व अधिकारियों के बीच मिलीभगत की बात कहा।

पीएम मोदी ने कहा था कि हाल ही में कांग्रेस से निष्कासित मणिशंकर अय्यर के घर कुछ ही दिन पहले एक बैठक हुई थी, जिसमें पाकिस्तान के उच्चायुक्त, पूर्व विदेश मंत्री, भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी मौजूद थे।

मोदी यहीं नहीं रुके, उन्होंने बनासकांठा के पालनपुर की एक चुनावी रैली में कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और सीनियर नेता अहमद पटेल का कनेक्शन पाकिस्तान जोड़ते हुए कहा था कि पाकिस्तान गुजरात चुनाव में कांग्रेस के साथ मिलकर हस्तक्षेप कर रहा है और पाकिस्तान के एक पूर्व अधिकारी चाहते हैं कि कांग्रेस नेता अहमद पटेल गुजरात के अगले मुख्यमंत्री बनें।

ओम थानवी ने पूर्व प्रधानमंत्री को याद करते हुए सोशल मीडिया पर लिखा मनमोहन सिंह जब प्रधानमंत्री थे उन्होंने कश्मीर दौरे में एक दफ़ा अच्छी बात कही थी कि हम भारत-पाक के आपसी रिश्तों में जान डालेंगे “हम सरहदों को मिटा नहीं सकते, पर उन्हें बेहतर संबंधों से निरर्थक ज़रूर बना सकते हैं।

सिंह बहुत सफलता तो अर्जित नहीं कर सके, पर नेताओं, बुद्धिजीवियों, लेखकों, कलाकारों, पत्रकारों, संगीतकारों, मंच के हँसोड़ कलाकारों आदि का आवागमन दोनों देशों में बहुत बढ़ गया था। फ़िल्म अभिनेता एक से दूसरे देश जाकर काम कर सकते थे।