मोदी का नाटक आतंकवाद औऱ कालाधन से शुरू हुआ था जो कर्ज औऱ कुछ राहतों के बाद खत्म हो गया : हार्दिक पटेल
BH News

मोदी का नाटक आतंकवाद औऱ कालाधन से शुरू हुआ था जो कर्ज औऱ कुछ राहतों के बाद खत्म हो गया : हार्दिक पटेल

31 दिसंबर की शाम राष्ट्र के नाम प्रधानमंत्री मोदी का संदेश लोगों को रास नहीं आया। तमाम विपक्षी दलों की आलोचना के बाद पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने भी राष्ट्र के नाम संदेश की आलोचना की।

पाटीदार नेता ने कहा कि, 2016 के आखिरी दिन देश के किसानों,गरीबों व युवाओं को पीएम मोदी से काफी उम्मीद थी। पीएम मोदी लोगों को काफी राहत देंगे। लेकिन लोगों के हाथ निराशा लगी।

हार्दिक पटेल ने आगे कहा कि, पीएम मोदी का नाटक कालाधन,भ्रष्टाचार औऱ आंतकवाद से शुरू हुआ था जो कल कर्ज पर राहत औऱ महिला प्रसूती पर मदद जैसे डायलाग देके खत्म हुआ। हार्दिक ने पीएम मोदी को आड़े हाथ लिया। क्योंकि जनता को काफी पीएम मोदी से उम्मीद थी।

दरअसल नोटबंदी के बाद से लोगों को सप्ताह में सिर्फ 24 हजार व एटीएम से रोजाना 2500 निकालने जैसी बंदिशे लगी है। जिसे आरबीआई ने एटीएम से तो रोजाना की लीमिट बढ़ाकर 4500 रूपए कर दी। लेकिन सप्ताह वाली बंदिशे अभी भी लगी हैँ। जिसको विपक्ष खत्म करने की लगातार मांग कर रहा है।