अब गुजरात के राज्यपाल ने खोली ‘गुजरात मॉडल’ की पोल, बोले- हर शिक्षित ‘नौजवान’ बेरोजगार है कब मिलेगा रोजगार ?
BH News

अब गुजरात के राज्यपाल ने खोली ‘गुजरात मॉडल’ की पोल, बोले- हर शिक्षित ‘नौजवान’ बेरोजगार है कब मिलेगा रोजगार ?

देश में बढती बेरोज़गारी को गुजरात के राज्यपाल ओपी कोहली ने युवाओं के लिए एक चिंता का विषय बताया है।

ओ पी कोहली ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम में कहा, “पढ़े लिखे युवा संतुष्ट नहीं है क्योंकि उन्हें उच्च शिक्षा प्राप्त करने के बावजूद भी नौकरियां नहीं मिल रही हैं। ये एक चिंता का विषय है।”

गांधीनगर के गुजरात टेक्नोलोजिकल यूनिवर्सिटी (जीटीयू) के 7वें दीक्षांत समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए ओ पी कोहली ने कहा कि, “युवाओं के बीच इस प्रकार का असंतोष समाज के लिए एक चेतावनी घंटी है।”

राज्यपाल कोहली ने ये भी कहा कि, “कुछ शहरों में विकास करने से पूरे देश में विकास नहीं होगा। अब समय आ गया है की भारत को एक ‘विकासशील’ देश से ‘विकसित’ देश बनने की ओर बढ़ना चाहिए।”

गुजरता के शिक्षा मंत्री ने राज्यपाल के इस बात पर बयान देते हुए कहा कि, “ये उनकी व्यक्तिगत राय और सुझाव है, हमारी सरकार उनके सुझाव कर काम करेगी।”

पाटीदार अनामत आन्दोलन के नेता हार्दिक पटेल ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा “गुजरात के गवर्नर साहब ने एक कार्यक्रम में कहा कि प्रदेश में शिक्षत युवा बेरोज़गार हैं, सरकार को कुछ करना चाहिए।”

पाटीदार अनामत आन्दोलन के नेता हार्दिक पटेल ने पहले भी कई बार बेरोज़गारी के मुद्दे को उठाया है। अब जब खुद गवर्नर ने इस मुद्दे को चिंताजनक बताया है तो सरकार को जरुर इस विषय पर कुछ सोचना चाहिए। बेरोज़गारी देश का एक बहुत बड़ा मुद्दा बन चूका है।

हालांकि सरकार बनाने से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ये कहा था कि वो बेरोज़गारी से देश को मुक्त कराएँगे। लेकिन सरकार बनाने के बाद बेरोज़गारी और भी बढ़ चुकी है।