इलाहाबादः दलित छात्र की हत्या करने वाला ‘विजय शंकर सिंह’ भाजपा के पूर्व दबंग विधायक सोनू सिंह का रिश्तेदार है
BH News

इलाहाबादः दलित छात्र की हत्या करने वाला ‘विजय शंकर सिंह’ भाजपा के पूर्व दबंग विधायक सोनू सिंह का रिश्तेदार है

उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था दुरुस्त करने का वादा कर सत्ता हासिल करने वाली योगी सरकार अपने अब तक के कार्यकाल में असफल नजर आ रही है। राज्य में दलितो और मुस्लिमों पर हमले अब आम हो चुके हैं। सरकार बस फर्जी एनकाउंटर कर अपराध खत्म करने का दम भर रही है।

गत शनिवार रात इलाहाबाद के कटरा इलाके में स्थित एक रेस्तरां के बाहर एक दलित छात्र की हत्या कर दी गई। मामला एक कहासुनी से शुरू हुआ और दिलीप सरोज नाम के दलित छात्र की हत्या पर जाकर खत्म हुआ। एसएसपी के मुताबिक, रेस्तरां से निकलने के दौरान हुई जरा सी टक्कर के बाद दिलीप और विजय शंकर में विवाद हुआ था, जिसके बाद इसने बड़ा रूप ले लिया।

वारदात के बाद रेस्तरां के मालिक अमित उपाध्याय ने एक अन्य के साथ मिलकर दिलीप को स्थानीय अस्पताल में दाखिल किया था। इसके बाद दिलीप का परिवार उन्हें एक अन्य अस्पताल में ले गया था जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी।

इस हत्या के बाद एक बार फिर यूपी सरकार के कानून व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं। विपक्ष इस हत्या को लेकर लगातार बयान दे रही है। मामाले ने राजनीतिक रूप लेना शुरू कर दिया है।

एक छोटी से टक्कर की वजह से कोई किसी की हत्या कैसे कर सकता है? जाहिर सी बात है जिसने वारदात को अंजाम दिया उसे इसे ये छोटी बात लगी होगी। हत्या करने वाला व्यक्ति एक मजबूत राजनीतिक पृष्ठभूमि का बताया जा रहा है। समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता पंखुड़ी पाठक ने ट्वीट किया है कि…

”कहा था ना राजनैतिक संरक्षण है ? दिलीप सरोज का हत्यारा विजय शंकर सिंह भाजपा के पूर्व दबंग विधायक सोनू सिंह का रिश्तेदार है। वह जानता था कि उसकी इस गुंडई को भाजपा का समर्थन मिलेगा। इसी वजह से पुलिस ने भी संज्ञान लेने में देर लगाई। अगर विडीओ नहीं बनती तो ये कभी पकड़ा भी नहीं जाता।”